Technology

Teleprompter Kya Hota Hai | टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल कैसे किया जाता हैं।

Teleprompter Kya Hota Hai: टेलीप्रॉम्पटर क्या होता है। पीएम नरेंद्र मोदी की वजह से ये चर्चा मे क्यों आया

क्या आपने कभी नोटिस किया है कि जब भी कोई राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, या न्यूज़ एंकर भाषण देते हैं या न्यूज़ पढ़ते हैं, तो वे अक्सर अपने सामने की स्क्रीन पर देखकर पढ़ते हैं।

ऐसे में आप लोगों ये सोचते होंगे कि आखिर में जो उनके सामने डिस्प्ले स्क्रीन होती है वो चीज क्या है। तो जानकारी के लिए मैं आपको बता दूँ उस स्क्रीन को Teleprompter’ कहा जाता है। इसके माध्यम से ही अक्सर बड़े नेता लोग अपना भाषण देते है। यही नहीं इस स्क्रीन का इस्तेमाल News Anchor, Content Creator भी करते है।

अगर आप Teleprompter के बारें में नहीं जानते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। इस लेख में हम आपको बताने वाले हैं कि टेलीप्रॉम्पटर क्या होता हैं। Teleprompter kya hota hai , टेलीप्रॉम्पटर कैसे काम करता हैं। teleprompter kaise kaam karta hai

Table of Contents

टेलीप्रॉम्प्टर चर्चा में क्यों आया

के चर्चा मे आने की सबसे बड़ी वजह ये रही कि वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के दावोस समिट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी टेलीप्रॉम्प्टर की मदद से अपना भाषण दे रहे थे।

लेकिन भाषण के बीच मे ही टेलीप्रॉम्प्टर मे कुछ टेक्निकल दिक्कत आ गई जिसके कारण प्रधानमंत्री को लगभग 56 सेकेंड तक अपना भाषण बीच मे ही रोकना पड़ा। उसके बाद से ही ये चर्चा का विषय बना हुआ है।

टेलीप्रॉम्पटर की खोज

टेलीप्रॉन्पटर की खोज ‘Fred Barton Junior, Hubert Schlafly और Irving Berlin kahn ने वर्ष 1950 के दौरान की थी।

टेलीप्रॉम्पटर क्या होता है ? Teleprompter Kya Hota Hai

टेलीप्रॉम्प्टर को प्रॉम्प्टर या ऑटोक्यू के नाम से भी जानते हैं। ये के इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होती है। जिसकी मदद से आप कोई भी स्क्रिप्ट , पेज , बुक एक डिजिटल स्क्रीन के जरिए आसानी से पढ़ सकते है।

आसान भाषा मे कहे तो टेलीप्रॉम्प्टर एक ऐसी स्क्रीन वाली डिवाइस होती है। जिस पर कोई भी व्यक्ति कही पर भी बोलते समय बिना रुके स्क्रिप्ट को देखकर पढ़ सकता है।

अगर आप न्यूज देखते है तो नोटिस भी किया होगा कि न्यूज एंकर केमरे के सामने देखकर नॉन स्टॉप न्यूज पढ़ते रहते है। वो भी बिना किसी पेपर स्क्रिप्ट या लैपटॉप की स्क्रीन पर देखे बिना बहुत से लोगों को यही लगता है कि ये पहले न्यूज को याद करते होंगे।

उसके बाद बिना देखे न्यूज पढ़ते होंगे। लेकिन ऐसा नहीं है। इनके सामने केमेरे के नीचे एक टेलीप्रॉम्प्टर लगा होता है। जिसमे किताब की तरह न्यूज लिखी हुई होती है वे बस उसी को देखकर नॉन स्टॉप न्यूज पढ़ते है।

टेक्स्ट की स्पीड कितनी होगी इसे कंट्रोल करने के लिए न्यूज रीडर के हाथ मे एक छोटा सा रिमोट होता है। जिसकी मदद से वे स्पीड को अपने अनुसार एडजस्ट कर सकते है।

मार्केट ने कई प्रकार के टेलीप्रॉम्प्टर मौजूद है जिसमे हाथ से कंट्रोल करने से लेकर पाँव तक कंट्रोल करने के ऑप्शन तक मौजूद है। टेलीप्रॉम्प्टर का सबसे ज्यादा इस्तेमाल मीडिया इंडस्ट्री , नेताओं के भाषण , फिल्म इंडस्ट्री में किया जाता है।

टेलीप्रॉम्प्टर कैसे काम करता है ? Teleprompter Kaise Kaam Karta Hai

टेलीप्रॉम्पटर एक एलईडी की तरह स्क्रीन इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होती है। जिसमे रिफ्लेक्शन मिरर के जरिए टेक्स्ट दिखाई देते है ।

टेलीप्रॉम्पटर में दो बीम-स्प्लिटर ग्लास होते हैं। प्रत्येक ग्लास को 45 डिग्री कोण पर एक छोटे स्टैंड पर रखा जाता है। जिसमे मॉनिटर की मदद से टेक्स्ट को ग्लास पर दिखाया जाता है । कोई भी दूर बैठा रीडर उस टेक्स्ट को आसानी से पढ़ सकता है।

ग्लास के निचले हिस्से पर एक फ्लैट एलसीडी मॉनिटर लगा होता है। जिसका मुंह छत की और करके रखा जाता है। जो एक साथ लगभग 56 से 72 पीटी फॉन्ट में शब्दों शब्दों को स्क्रीन पर दिखाता है। इसके पीछे की और कैमरा लगा होता है।

टेलीप्रॉम्पटर और कमरे के पीछे एक कंट्रोलर होता है । जो टेलीप्रॉम्पटर पर दिखाए जाने वाले टेक्स्ट की स्पीड को कंट्रोल करता है। यानि कि जैसे जैसे रीडर टेक्स्ट को पढ़ता जाता है।

कंट्रोलर उस टेक्स्ट को स्क्रॉल करके आगे बढ़ाता रहता है। लेकिन ज्यादातर न्यूज एंकर टेक्स्ट की स्पीड को खुद ही कंट्रोल करते है स्पीड को कंट्रोल करने के लिए उनके हाथ मे एक छोटा सा रिमोट होता है। जबकि नेता भाषण के दौरान कंट्रोलर की मदद लेते है।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

टेलीप्रॉम्पटर कितने प्रकार के होते हैं

प्रेसिडेंशियल टेलीप्रॉम्पटर ( Presidential Teleprompter )

इस टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल ज्यादातर राष्ट्रपति के भाषण के दौरान किया जाता है। इसमें एक स्टैंड पर एक ग्लास स्क्रीन होती है। जबकि मॉनिटर को नीचे रखा जाता है। मॉनिटर को प्रतिबिंबित करने के लिए उसके ऊपर स्क्रीन ग्लास को झुकाया जाता है।

प्रेसिडेंशियल टेलीप्रॉम्पटर को स्पीकर के सामने चारों तरफ लगाया जाता है ताकि स्पीकर जिधर भी देखे उसे बोलने के लिए टेक्स्ट दिखाई दे।

कैमरा माउंटेड टेलीप्रॉम्पटर ( Camera Mounted Teleprompter )

कैमरा माउंटेड टेलीप्रॉम्पटर मे ग्लास स्क्रीन के पीछे एक केमर लगा होता है। इसमे स्पीकर केमरे की तरह देखकर टेक्स्ट को पढ़ता है।

इस टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल ज्यादातर न्यूज एंकर, बिजनेस ऑफिसर , टीचर इत्यादि अपने भाषण के दौरान करते है। सभी न्यूज़ स्टूडियो में इसका इस्तेमाल किया जाता है।

स्टैंड टेलीप्रॉम्पटर ( Stand Teleprompter )

ये टेलीप्रॉम्पटर प्रेसिडेंशियल टेलीप्रॉम्पटर के समान होते है। इसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल फिल्म इंडस्ट्री में डायलॉग बोलने के लिए किया जाता है।

पीएम के टेलीप्रॉम्पटर में क्या खास है ?

प्रधानमंत्री के द्वारा इस्तेमाल होने वाला टेलीप्रॉम्पटर आम टेलीप्रॉम्पटर से काफी अलग होता है। जिसका इस्तेमाल पीएम अपना भाषण के दौरान करते है। ये पीएम के सामने दाये और बाये लगे होते है। जिस पर पीएम अपना भाषण देखकर पढ़ते है।

जैसे जैसे पीएम अपना भाषण पढ़ते जाते है। पीछे से कंट्रोलर उस टेक्स्ट को आगे बढ़ाता जाता है। बहुत से लोगों को लगता है कि पीएम ये सभी भाषण अपने दिमाग से बोल रहे है।

ये देखने मे पीछे से कांच के जैसे दिखाई देते है। लेकिन जिस और से ये पीएम की तरफ होते है। उस पर टेक्स्ट चलते रहते है। इस टेलीप्रॉम्पटर को कॉन्फ्रेंस टेलीप्रॉम्पटर भी कहा जाता है। इसमें एक एलसीडी मॉनिटर लगा होता है।

जिसका फोकस ऊपर की और होता है। इसमे प्रजेंटर के आस-पास ग्लास लगे होते है जिन्हे इस तरह से सेट किया जाता है। कि एलसीडी मॉनिटर पर जो भी टेक्सट चल रहे है वे ग्लास पर रिफ्लेट होकर स्पीकर को दिखाई देते है।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

बराक ओबामा के समय हाईलाइट हुए टेलीप्रॉम्पटर

टेलीप्रॉम्पटर को सबसे ज्यादा फेमस अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने किया था। अपने भाषणों मे ज्यादातर फेक्ट फिगर का इस्तेमाल करते थे। जिसके कारण लोगों को लगता था कि ओबामा इतनी अच्छी स्पीच कैसे देते है।

लेकिन लोगों को बाढ़ मे पता चला कि ओबामा अपने भाषणों मे टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल किया करते थे। उसके बाद से अमेरिका के सभी राष्ट्रपति टेलीप्रॉम्पटर का इस्तेमाल करते आ रहे है।

टेलीप्रॉम्प्टर का सबसे पहले उपयोग

टेलीप्रॉम्प्टर का इस्तेमाल सबसे पहले अमेरिका में 1948 में किया गया था। शुरुआत में जब इसका इस्तेमाल हुआ तब हाफ सूटकेस साइज की डिवाइस के ऊपर प्रिंटेड पेपर रोल के जरिए स्पीकर इसे पढ़ते थे।

उसके बाद समय बदलता गया। टेक्नोलॉजी बदली तो इसकी जगह स्क्रीन ग्लास ने ले ली। 1952 में इसका इस्तेमाल अमेरिकी अध्यक्ष ने अपने भाषण के दौरान किया था।

टेलीप्रॉम्प्टर की कीमत?

देश मे अच्छे टेलीप्रॉम्प्टर की कीमत एक से दो लाख रुपए से शुरू होती है। जो अधिकतम 20 से 25 लाख रुपये तक हो सकती है।

टेलीप्रॉम्प्टर का उपयोग कहां होता है? Teleprompter ka Use Kaha Hota Hai

वैसे टेलीप्रॉम्प्टर का इस्तेमाल टेलीविजन न्यूज रूम और मीडिया इंडस्ट्री में होता है, लेकिन अब नेताओं के भाषण देने के लिए भी इसका खूब इस्तेमाल हो रहा है। साथ ही फिल्मों में डायलॉग बोलने से लेकर सोशल मीडिया के लिए कंटेंट क्रिएट करने वाले लोग भी इसका धड़ल्ले से उपयोग कर रहे हैं।

teleprompter ka use kaha hota hai by techbesmart

मोबाईल को टेलीप्रॉम्टर कैसे बनाएं। Mobile ko Teleprompter Kaise Banaye

आजकल इंटरनेट पर कई तरह के मोबाइल ऐप्स और सॉफ्टवेयर उपलब्ध हैं, जिनकी मदद से आप अपने मोबाइल, कंप्यूटर, लैपटॉप, या टैबलेट को Teleprompter की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।

इन ऐप्स और सॉफ्टवेयर के जरिए आप अपने टेक्स्ट को टाइप कर सकते हैं, और फिर वह आपके डिवाइस पर स्क्रोल होता रहेगा।

इसमें आप टेक्स्ट का आकार, स्क्रीन की सेटिंग्स, और स्क्रोलिंग की गति को भी अपने हिसाब से समायोजित कर सकते हैं। इससे आपका डिवाइस बड़ी आसानी से एक Teleprompter में बदल जाएगा।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

मोबाइल को Teleprompter’ बनाने वाले ऐप

Parrot Teleprompter

Parrot Teleprompter’ एक ऐसा ऐप है जो एपल और एंड्राइड यूजर्स के लिए खास तौर पर डिज़ाइन किया गया है। इसका इस्तेमाल करना काफी सरल है। इस ऐप में आप टेक्स्ट की स्क्रोलिंग की गति, टेक्स्ट का आकार, और बैकग्राउंड के रंग को अपने अनुसार बदल सकते हैं।

ये ऐप केवल मोबाइल के अलावा कंप्यूटर मॉनिटर के लिए भी बहुत उपयोगी है। इसके कुछ खास फीचर्स में Dropbox और toggle marker शामिल हैं, जो इसे दूसरे ऐप से अलग बनाते हैं।

PromptSmart

PromptSmart’ आईओएस और एंड्रॉइड यूजर्स के लिए एक फ्री टेलीप्रॉम्प्टर सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है। इसका उपयोग करना काफी आसान है।
इस ऐप की में एक खास फीचर यह हैं । voice-activated feature, जो आपको टेक्स्ट को आवाज में बदलने की सुविधा देता है।

Selvi

ये ऐप भी अभी इतना पोपुलर नहीं हैं। इस ऐप का इस्तेमाल भी आईओएस और एंड्रॉइड यूजर्स कर सकते हैं। लेकिन फिर भी इस ऐप के कुछ खास फीचर हैं जो इसे दूसरों से अलग बनाते हैं।

इस सॉफ्टवेयर के जरिए आप अपने मोबाइल डिवाइस पर कैमरा इस्तेमाल कर सकते हैं, जिससे आपको वीडियो रिकॉर्ड करते समय अन्य डिवाइस की जरूरत नहीं पड़ती।

आप अपनी स्क्रिप्ट को मैन्युअली टाइप कर सकते हैं या फिर अपने क्लाउड स्टोरेज से इम्पोर्ट कर सकते हैं।

इसमें विंडो का आकार भी आसानी से समायोजित किया जा सकता है, और आप इसे अपनी उंगली से ऊपर-नीचे या बाएं-दाएं कर सकते हैं।

Teleprompter Pro Lite

ये भी एक फ्री ऐप हैं। इस ऐप का इस्तेमाल करना भी काफी आसान हैं। इसमें आपको फ़ॉन्ट का चयन करने, स्क्रॉल स्पीड को कंट्रोल करने की करने
सुविधा मिलती है।

इस ऐप की एक खास बात यह है कि यह ब्लूटूथ के जरिए भी कनेक्ट हो सकता है, जो इसे और भी यूजर फ़्रेंडली बनाता हैं।

इसके अलावा आप Video Teleprompter, ,BIGVU, Prompster ऐप को भी Teleprompter के तौर पर मोबाइल मे इस्तेमाल कर सकते हैं।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

निष्कर्ष- Teleprompter Kya Hota Hai

इस लेख मे हमने आपको टेलीप्रॉम्पटर के बारें में विस्तार से जानकारी दी हैं। कि टेलीप्रॉम्पटर क्या होता हैं। Teleprompter kya hota hai , टेलीप्रॉम्पटर कैसे काम करता हैं। teleprompter kaise kaam karta hai

उम्मीद करते है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। अगर आपको हमारी ये जानकारी पसंद आई है तो हमे कमेंट करके जरूर बताएं आपका फीडबैक हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है।

और इस जानकारी को ज्यादा से ज्यादा अपने दोस्तों के साथ शेयर करे ताकि वे भी टेक्नोलॉजी के प्रति जागरूक हो सके।

हम इस वेबसाइट पर समय समय पर साइबर सेक्योरिटी , और टेक्नोलॉजी से जुड़ी जानकारी शेयर करते रहते है इसलिए इस लेख को पढ़ने के बाद हमारी पूरी वेबसाइट को एक बार ध्यान से देखे क्या पता इस वेबसाइट पर आपसे संबंधित कोई ऐसी जानकारी हो जिसका आपको तलाश हो। अगर आप हमसे किसी दूसरे टॉपिक पर डीटेल मे जानकारी चाहते है तो हमे कमेन्ट करके जरूर बताए। धन्यवाद

Techbesmart

अगर आप Tech News , Internet Tips, Mobile Tips, Social Meda Tips, Online Scam Tips, इत्यादि से जुड़ी हुई जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारी वेबसाइट www.techbesmart.com पर विजिट करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button