Tech Tips & Tricks

Power Bank Kya Hota Hai | पावर बैंक क्या है, पावर बैंक खरीदते समय किन किन बातों का जरूर ध्यान रखें।

मोबाइल चार्जिंग लंबे सफर के दौरान एक बड़ी समस्या होती है, खासकर उन लोगों के लिए जो बहुत व्यस्त रहते हैं फील्ड में काम करते हैं। इनके पास मोबाइल चार्ज करने का समय नहीं होता।

ऐसे में, जरूरत के समय मोबाइल चार्ज करने के लिए ये लोग पावर बैंक का प्रयोग करते हैं। पहले पावर बैंक खरीदना काफी महंगा होता था, लेकिन अब बाजार में काफी सस्ते दामों पर पावर बैंक उपलब्ध हैं।

लोग कभी-कभी लालच में आकर सस्ते पावर बैंक खरीद लेते हैं और इससे उन्हें नुकसान उठाना पड़ता है क्योंकि बाज़ार में कम कीमत पर बिक रहे पावर बैंक अक्सर नकली होते हैं।

इस बात की जानकारी बहुत कम लोगों को होती है। अगर आप पावर बैंक के बारे में सही और पूरी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस लेख को पूरा पढ़ें। इस लेख में हम आपको पावर बैंक से संबंधित विस्तृत जानकारी देंगे, जैसे कि पावर बैंक क्या होता हैं। Power Bank Kya Hota Hai पावर बैंक कैसे खरीदें Power Bank Kaise Kharide और असली तथा नकली पावर बैंक की पहचान कैसे करें।

बाजार में विभिन्न कंपनियों के पावर बैंक आसानी से मिल जाएंगे, परन्तु बिना सही जानकारी के पावर बैंक खरीदने से आपका स्मार्टफोन भी खराब हो सकता है।

यदि आप पावर बैंक खरीदने का विचार कर रहे हैं, तो इन उपयोगी टिप्स का पालन करके आप अपने पैसे की बचत कर सकते हैं और एक अच्छी क्वालिटी का प्रोडक्ट खरीद सकते हैं।

पावर बैंक क्या है Power Bank Kya Hota Hai

पावर बैंक एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस है जो दिखने में स्मार्टफोन के समान होती है। इस डिवाइस में मुख्य रूप से बैटरी होती है जिसे स्मार्टफोन की भांति चार्जर से चार्ज किया जाता है।

सरल शब्दों में, पावर बैंक ऊर्जा को संग्रहीत करने के लिए होते हैं जिसका उपयोग मोबाइल फोन को चार्ज करने में किया जा सकता है।

स्मार्टफोन के संचालन के लिए बैटरी चार्ज की आवश्यकता होती है। चार्जिंग के बिना स्मार्टफोन या टैबलेट का प्रयोग संभव नहीं है, लेकिन समस्या तब उत्पन्न होती है जब डिवाइस में चार्ज न हो और चार्जिंग के लिए विद्युत सुविधा उपलब्ध न हो।

इस स्थिति से निपटने के लिए अधिकतर लोग पावर बैंक का उपयोग करते हैं। बाज़ार में 10,000 mAh, 20,000 mAh या इससे भी अधिक क्षमता वाले पावर बैंक आसानी से मिल जाते हैं।

पावर बैंक कैसे काम करता हैं ।

पावर बैंक में मुख्यतः दो प्रकार की बैटरियों का उपयोग होता है: लिथियम-आयन (Lithium-Ion) और लिथियम-पॉलिमर (Lithium-Polymer)।

इन दोनों प्रकार की बैटरियों में इलेक्ट्रोलाइट और इलेक्ट्रॉन होते हैं, जिनकी प्रक्रिया से धारा (करंट) उत्पन्न होती है, यानी बिजली का सृजन होता है।

लिथियम-आयन (Li-Ion)

लिथियम-आयन बैटरी में इलेक्ट्रोलाइट के लिए तरल पदार्थ का उपयोग होता है। तरल इलेक्ट्रोलाइट के कारण इस प्रकार की बैटरी का आवरण कठोर बनाया जाता है, जिससे ये भारी होती हैं।

इस बैटरी का अधिक चार्ज होने या उच्च तापमान पर फटने का जोखिम रहता है। इसकी बैटरी लाइफ अपेक्षाकृत कम होती है, और अगर इसे उपयोग में नहीं लाया जाए तो यह अपने आप ही डिस्चार्ज हो सकती है।

लिथियम-पॉलीमर (Li-Po)

लिथियम-पॉलिमर बैटरी में इलेक्ट्रोलाइट के रूप में सेमी-सॉलिड जेल का इस्तेमाल होता है। इन बैटरियों को स्मार्ट कार्ड जैसी पतली शीट्स में भी डिजाइन किया जाता है, जिसके चलते ये बैटरियाँ काफी पतली और हल्की होती हैं।
ओवर चार्जिंग होने पर भी ये ज्यादा गर्म नहीं होतीं, इसलिए इनके फटने का खतरा बहुत कम होता है


लिथियम-आयन बैटरी की तुलना में इस बैटरी का जीवनकाल अधिक होता है। इसे इस्तेमाल न करने पर डिस्चार्ज होने की संभावना नगण्य होती है। इस कारण से इस बैटरी को पावर बैंक के लिए काफी सुरक्षित माना जाता है।

पावर बैंक कैसे खरीदे Power Bank Kaise Kharide

पावर बैंक की क्षमता बहुत महत्वपूर्ण होती है। बाज़ार में आपको 10,000 mAh क्षमता से लेकर 20,000 mAh या उससे भी अधिक क्षमता वाले पावर बैंक मिल जाएंगे। पावर बैंक खरीदने से पहले अपने स्मार्टफोन की बैटरी क्षमता की जांच कर लें और उससे तीन गुना अधिक क्षमता वाला पावर बैंक चुनें।

यानी कि अगर आपके स्मार्टफोन की बैटरी क्षमता 4000 mAh है, तो आपको कम से कम 12,000 mAh क्षमता वाला पावर बैंक खरीदना चाहिए, ताकि ज़रूरत पड़ने पर आप अपने फोन को कम से कम दो बार चार्ज कर सकें। पावर बैंक की बैटरी क्षमता आमतौर पर इसके ऊपरी कवर पर लिखी होती है।

आज के युग में उपयोगकर्ताओं के पास स्मार्टफोन के अलावा कई अन्य डिवाइसेस होते हैं जैसे कि ब्लूटूथ, वायरलेस ईयरफोन आदि, जिन्हें चार्ज करने की जरूरत होती है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए, पावर बैंक निर्माता कंपनियां अब पावर बैंक में दो से चार तक पोर्ट्स प्रदान कर रही हैं। यानी कि आप एक साथ दो से चार केबल्स लगाकर अपना स्मार्टफोन या अन्य डिवाइसेस चार्ज कर सकते हैं। इसलिए अब एक से अधिक पोर्ट्स वाले पावर बैंक ही खरीदना चाहिए।

बाजार में अब ऐसे पावर बैंक उपलब्ध हैं जिनके उपयोग के लिए USB केबल की जरूरत नहीं पड़ती। इन पावर बैंकों में USB Micro B, USB Type C, और Lightning जैसे इनबिल्ट केबल्स होते हैं, जिससे सीधे ही स्मार्टफोन या अन्य डिवाइस को कनेक्ट करके चार्ज किया जा सकता है।

आजकल सब कुछ तेजी से बदल रहा है और लोगों के पास धीरे-धीरे काम करने का समय नहीं है। इसलिए, अब स्मार्टफोन के साथ-साथ पावर बैंक में भी फास्ट चार्जिंग की सुविधा आ रही है। इसलिए, जब भी पावर बैंक खरीदें, हमेशा फास्ट चार्जिंग सुविधा वाला ही चुनें ताकि उसे कम समय में अधिक चार्ज किया जा सके।

जब भी पावर बैंक खरीदें, ऐसा चुनें जिसका आउटपुट वोल्टेज आपके स्मार्टफोन चार्जर के आउटपुट वोल्टेज के बराबर या उससे अधिक हो। चार्जर के अडाप्टर पर आउटपुट वोल्टेज लिखा होता है।
उदाहरण के लिए, अगर किसी चार्जर के अडाप्टर पर 5V-2A लिखा हुआ है, तो आपको 5V-2A या 5V-3A आउटपुट वाला पावर बैंक ही खरीदना चाहिए। अगर आप इससे कम क्षमता वाले पावर बैंक खरीदते हैं, तो आपका स्मार्टफोन धीरे चार्ज होगा।

इसे भी जरूर पढ़ें।

असली-नकली पावर बैंक की पहचान कैसे करें।

बाजार में विभिन्न प्रकार की कंपनियों के पावर बैंक मिलते हैं, परंतु यह जानना महत्वपूर्ण है कि कौन सा पावर बैंक असली है और कौन सा नकली। नहीं तो आपको खरीदारी में नुकसान हो सकता है।

यदि कोई पंजीकृत कंपनी पावर बैंक बना रही है, तो उसके कवर और पावर बैंक पर समान लोगो देखा जा सकता है। साथ ही, पावर बैंक के कवर पर ‘R-XXXXXXXX’ (जैसे R-454564233) नंबर भी लिखा होता है, जो उत्पाद की प्रमाणिकता दर्शाता है।

पावर बैंक खरीदने से पहले यह तय कर लें कि आपको इसकी जरूरत किस प्रकार के उपयोग के लिए है। अधिकतर लोग यात्रा या फील्ड के कामों के लिए पावर बैंक का इस्तेमाल करते हैं, क्योंकि रास्ते में चार्जिंग की समस्या होती है। यदि आप बाहरी कामों के लिए पावर बैंक खरीद रहे हैं, तो हमेशा छोटे और हल्के पावर बैंक को प्राथमिकता दें।

आजकल बाजार में कम कीमतों पर उच्च क्षमता वाले पावर बैंक आसानी से मिल जाते हैं। इसके कारण लोग अक्सर लालच में आकर उन्हें खरीद लेते हैं, जिससे उनके महंगे स्मार्टफोन को नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए, हमेशा विश्वसनीय कंपनी के पावर बैंक ही खरीदें।

पावर बैंक में बड़ी बैटरी होती है, जिसमें ओवरचार्जिंग के कारण बैटरी फटने का खतरा भी होता है।
इसलिए पावर बैंक खरीदते समय कवर पर लिखे गए निर्देशों को अवश्य पढ़ें।

पावर बैंक असली है या नकली, इसका पता आपको उसे हाथ में लेते ही चल जाएगा। असली पावर बैंक की बैटरी भारी होती है, इसलिए इसका वजन भी अधिक होता है, जबकि नकली पावर बैंक की बैटरी हल्की होती है, इसलिए इसका वजन कम होता है।

ब्रांडेड पावर बैंक निर्माता कंपनियों के पास आमतौर पर 10,000 mAh या 20,000 mAh क्षमता वाले पावर बैंक होते हैं। यदि आपको इससे अधिक क्षमता वाला पावर बैंक मिलता है, तो यह समझना चाहिए कि यह नकली हो सकता है। कुछ नकली पावर बैंक वाले कम क्षमता वाले पावर बैंक पर अधिक क्षमता वाले कवर लगाकर उन्हें अधिक दामों में बेचते हैं।

असली पावर बैंक निर्माता कंपनियां लोगो के अलावा पावर बैंक से जुड़ी हुई विभिन्न जानकारियां भी छापती हैं। यदि किसी पावर बैंक के कवर पर केवल लोगो ही दिखाई दे रहा है, तो यह संकेत है कि पावर बैंक नकली हो सकता है।

ब्रांडेड पावर बैंक निर्माता कंपनियां अपने पावर बैंक में अभी तक केवल चार्जिंग की सुविधा ही प्रदान करती हैं। अगर बाजार में आपको पावर बैंक में चार्जिंग के अलावा अन्य फीचर्स जैसे कि लाइट, म्यूजिक आदि मिलते हैं, तो यह संभावना है कि वह पावर बैंक नकली है।

कभी-कभी बाजार में ब्रांडेड कंपनियों के पावर बैंक बहुत सस्ते दामों पर मिल जाते हैं। ऐसे में लोग इस धारणा में खरीद लेते हैं कि वे एक अच्छी कंपनी का प्रोडक्ट कम दामों में पा रहे हैं, जबकि ये प्रोडक्ट अक्सर असली उत्पाद के डुप्लीकेट होते हैं।

अच्छी कंपनियां अपने पावर बैंक पर गारंटी प्रदान करती हैं। इसलिए, पावर बैंक खरीदते समय गारंटी के कागजात अवश्य लें। नकली पावर बैंक के साथ कोई गारंटी नहीं मिलती।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

चार्जिंग करते वक्त बरतें सावधानी

जब आप पावर बैंक खरीदें, तो उसे चार्ज करने के लिए हमेशा साथ में आई केबल का ही उपयोग करें। विभिन्न केबल्स का इस्तेमाल करने से बचें क्योंकि यह बैटरी के लिए हानिकारक हो सकता है।

पावर बैंक का उपयोग स्मार्टफोन चार्ज करने के लिए तभी करें जब आपके पास चार्जिंग का कोई अन्य विकल्प न हो। अगर आपके पास बिजली का विकल्प उपलब्ध है, तो प्राथमिकता उसी को दें। पावर बैंक का इस्तेमाल तभी करें जब आप यात्रा पर हों या फील्ड में काम कर रहे हों और आपके पास स्मार्टफोन को बिजली से चार्ज करने का कोई अन्य विकल्प न हो।

पावर बैंक को रात भर चार्जिंग पर न छोड़ें। चार्ज करते समय पावर बैंक से किसी अन्य डिवाइस को चार्ज न करें। पावर बैंक को पूरा चार्ज होने में लगने वाले समय की जानकारी इसके ऊपर दी गई होती है।

पावर बैंक कितना चार्ज हुआ है, इसकी जानकारी LED लाइट्स से मिलती है। पावर बैंक पर चार LED लाइट्स होती हैं। यदि दो लाइट्स जल रही हैं, तो इसका मतलब है कि पावर बैंक आधा चार्ज हुआ है। जब चारों लाइट्स जल जाएं, तो समझें कि पावर बैंक पूरी तरह चार्ज हो गया है।

10,000 mAh क्षमता वाला पावर बैंक चार्ज होने में आमतौर पर तीन से चार घंटे का समय लेता है। यदि पावर बैंक में फास्ट चार्जिंग की सुविधा है, तो इसे चार्ज होने में केवल एक से दो घंटे ही लगेंगे।

पावर बैंक का भी ध्यान रखें

  • पावर बैंक को हमेशा ऐसी जगह पर रखें जहां धूप, गैस या गीजर का इस्तेमाल न होता हो।
  • पावर बैंक को एक बार में ही पूरा चार्ज करें। बार-बार चार्ज करने से इसकी क्षमता कमजोर हो सकती है।
  • पावर बैंक को नमी वाली जगह पर रखने से बचें क्योंकि इससे स्पार्किंग का खतरा बना रहता है, जो बैटरी की चार्जिंग क्षमता को प्रभावित कर सकता है।
  • पावर बैंक को रातभर चार्जिंग पर न छोड़ें क्योंकि ओवरचार्जिंग से हीटिंग का खतरा होता है, जिससे बैटरी जल्दी खराब हो सकती है। आजकल बाजार में ऑटो-कट फीचर वाले पावर बैंक भी उपलब्ध हैं, जो फुल चार्ज होने पर खुद ही चार्जिंग लेना बंद कर देते हैं।

कुछ सिलेक्टेड पावर बैंक

UBON POWERMAXX

UBON POWERMAXX पावर बैंक की क्षमता 10,000 mAh है और इसकी मार्केट में कीमत ₹2700 है।
इस पावर बैंक को USB Micro B या USB Type C केबल से कनेक्ट करके चार्ज किया जा सकता है। इसे पूरी तरह चार्ज होने में लगभग चार से पांच घंटे का समय लगता है। इसका वजन हल्का होता है, जिससे इसे आप अपनी जेब में आसानी से रख सकते हैं।

U&i CHARTER (UiPB 2421)

यह पावर बैंक 10,000 mAh की क्षमता वाला होता है, जिसकी मार्केट में कीमत लगभग ₹3000 के करीब होती है।

इस पावर बैंक की विशेषता यह है कि यह डस्ट और फायर प्रूफ है और इसमें एक इंटेलिजेंट सेफ्टी सिस्टम लगा होता है, जो इसे ओवरचार्जिंग, उच्च तापमान और शॉर्ट सर्किट से बचाता है।

इस पावर बैंक से आप एक साथ छह डिवाइस चार्ज कर सकते हैं। इसमें USB Micro B, USB Type C, और Lightning केबल कनेक्ट करने की सुविधा भी मौजूद है।

Power Up Wireless

Power Up Wireless पावर बैंक की क्षमता 10,000 mAh है और इसकी मार्केट में कीमत लगभग ₹3000 है।

इस पावर बैंक में वायरलेस चार्जिंग की सुविधा मौजूद है, जिसके जरिए आप किसी भी डिवाइस को सतह पर रखकर चार्ज कर सकते हैं। इसमें फास्ट चार्जिंग की सुविधा भी दी गई है।

UBON POWER JAR (PB-X17)

यह एक कम रेंज में उपलब्ध अच्छा पावर बैंक है जिसकी पावर क्षमता 10,000 mAh है। मार्केट में इसकी कीमत लगभग ₹1700 है।

इस पावर बैंक में तीन इनबिल्ट चार्जिंग केबल्स की सुविधा है, जिसमें USB Micro B, USB Type C और Lightning केबल शामिल हैं।

इसमें एक USB पोर्ट भी दिया गया है, जिसे आप एडेप्टर से जोड़कर चार्ज कर सकते हैं।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

निष्कर्ष- Power Bank Kya Hota Hai

इस लेख में हमने पावर बैंक के बारे में विस्तार से जानकारी दी है। यदि आप पावर बैंक खरीदना चाहते हैं या इसकी सही जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस लेख को अंत तक पढ़ें। इसमें हमने पावर बैंक की खरीदारी से जुड़ी विभिन्न महत्वपूर्ण जानकारियां बताई हैं। जैसे कि पावर बैंक क्या होता हैं। Power Bank Kya Hota Hai पावर बैंक कैसे खरीदें Power Bank Kaise Kharide और असली तथा नकली पावर बैंक की पहचान कैसे करें।

अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है, तो कृपया अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। किसी भी प्रकार के सवाल होने पर आप कमेंट करके पूछ सकते हैं। इस जानकारी को अन्य लोगों के साथ शेयर करना न भूलें, ताकि वे भी इसका लाभ उठा सकें। धन्यवाद।

Techbesmart

अगर आप Tech News , Internet Tips, Mobile Tips, Social Meda Tips, Online Scam Tips, इत्यादि से जुड़ी हुई जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारी वेबसाइट www.techbesmart.com पर विजिट करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button