Online Scam

Pink WhatsApp Scam Alert : एक गलत क्लिक आपका बैंक अकाउंट खाली

इंटरनेट पर अब पिंक कलर का व्हाट्सअप पर आ चुके हैं। बहुत से यूजर इसके कलर को देखते हुए व्हाट्सअप पर इस ऐप के लिंक जमकर शेयर कर रहे हैं। पिंक कलर लड़कियों का फेवरेट माना जाता हैं। इसलिए ये ऐप लड़कियों को भी काफी पसंद आ रहा हैं।

इस ऐप को मोबाइल में इंस्टाल करने वाले यूजर को अभी तक पता ही नहीं हैं कि ये ऐप कितना खरनाक हैं। इसलिए ऐसे यूजर्स स्कैमर के जाल में आसानी से फंस जाते हैं। और अपना बहुत कुछ गंवा देते हैं।

अगर आप जानना चाहते हैं कि ये ऐप कितना खतरनाक हैं तो इस जानकारी को अंत तक जरूर पढ़ें।

Pink WhatsApp Scam Alert Hindi

व्हाट्सअप का ये नया वर्जन इल्लीगल एक्टिविटी के लिए बनाया गया हैं। इसलिए ये ऐप प्ले स्टोर पर मौजूद नहीं हैं। ऐप को बनाने वाले स्कैमर इस ऐप को इंटरनेट पर अपलोड करके ऐप को डोनलोड करने के लिंक अलग अलग तरीकों से यूजर तक पहुचा रहे हैं। सोशल मीडिया के जरिए व्हाट्सअप के जरिए

यूजर्स को लगता हैं। इस ऐप का कलर भी अच्छा हैं और फीचर्स भी पुराने वाले व्हाट्सप्प से काफी एडवांस हैं। इसलिए बहुत से यूजर्स इस ऐप को अपने मोबाइल में इंस्टाल कर रहे हैं।

इस ऐप को मोबाइल में इंस्टाल करने के बाद यूजर्स के मोबाइल का कंट्रोल स्कैमर के पास चला जाता हैं। क्योंकि मोबाइल नंबर बैंक अकाउंट से लिंक रहता हैं।

इसकी वजह से यूजर्स के बैंक अकाउंट भी खाली किये जा रहे हैं। यही नहीं स्कैमर यूजर्स का मोबाइल मे मौजूद निजी डाटा आसानी से चुरा रहे हैं। अब इस डाटा को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देकर स्कैमर यूजर को ब्लैकमेल करके मोटी रकम वसूल सकते हैं।

जब ये मामला मुंबई पुलिस के सामने आया तो उन्होंने इसकी जांच करके एक एडवजरी भी जारी की हैं जिसे आप स्क्रीन पर देख सकते हैं। और इस ऐप को डाउनलोड न करने की सलाह दी गई हैं। ताकि आप खुद को सेफ रख सको।

अगर किसी ने गलती से अपने फोन में Pink WhatsApp को इंस्टाल कर लिया हैं तो उसे तुरंत unstall करके डिलीट कर दें। और अपने डाटा का बेकअप लेकर पूरे फोन को फॉर्मेट करें।

इसे भी जरूर पढे: WhatsApp पर आया स्कैम का नया तरीका WhatsApp hi Mum Scam , आप भी हो सकते हैं कंगाल

इस स्कैम से कैसे बचें।

इंडिया में ज्यादातर यूजर्स ऑनलाइन फ्रॉड का शिकार इसलिए होते हैं क्योंकि यहाँ पर जब तक खुद के साथ ऑनलाइन फ्रॉड न हो वो इसके बारें में सीखना नहीं चाहते हैं। जब फ्रॉड हो जाता हैं। फिर उन्हे इंटरनेट का इस्तेमाल करने मे भी डर लगने लगता हैं।

इंटरनेट का इस्तेमाल तो सभी करते हैं लेकिन इंटेनेट का सेफली इस्तेमाल कैसे करें। ये कुछ ही लोगों को मालूम होता हैं। इंटरनेट का सेफली इस्तेमाल कैसे करें। ताकि आपके साथ किसी भी प्रकार का फ्रॉड न हो। इसके बारें में हम किसी दूसरी वीडियो में डिटेल में बात कारेगे।

यहाँ हम बात कर रहे हैं Pink WhatsApp स्कैम से कैसे बचें।

इसे भी जरूर पढे: सिम स्वाइप फ्रॉड, न कोई काल आएगी, न कोई ओटीपी पूछेगा लेकिन फिर बैंक अकाउंट खाली हो जाएगा।

  1. किसी भी ऐप को इंस्टाल करने से पहले उसे गूगल प्ले स्टोर पर सर्च करें। अगर वो ऐप गूगल प्ले स्टोर या एप्पल स्टोर पर नहीं हैं । इसका सीधा सा मतलब हैं ये ऐप इल्लीगल हैं। इसलिए इन ऐप स्टोर पर नहीं हैं। अगर सही होती तो इन ऐप स्टोर पर मौजूद होती हैं। इसलिए जो ऐप इन ऐप स्टोर पर मौजद नहीं हैं। ऐसे ऐप को अपने मोबाइल में इंस्टाल करने से बचें। वो किसी भी प्रकार के ऐप हो सकते हैं।
  2. किसी भी प्रकार के अनजान लिंक पर क्लिक करके अपने मोबाइल में किसी भी ऐप को इंस्टाल न करें। न ही किसी वेबसाइट को ओपन न करें। इस प्रकार के लिंक फिशिंग लिंक हो सकते हैं। जिससे आपके मोबाइल में वायरस जा सकता हैं।
  3. अगर आपने जाने अनजाने में अपने मोबाइल में फेक ऐप को इंस्टाल कर लिए है तो उसे तुरंत डिलीट करके अपने डाटा का बैकअप लेकर पूरे मोबाइल को फॉर्मेट करें।
  4. किसी भी प्रकार की ऐप को डोनलोड करने एक लिए हमेशा गूगल प्ले स्टोर या एप्पल स्टोर का इस्तेमाल करें। इंटरनेट पर सही ऐप से मिलती जुलती हजारों ऐप मिल जाएगी। जिससे आप धोखा खा सकते हैं।

5 किसी भी अनजान प्रसन के साथ अपनी निजी जानकारी या बैंक से जुड़ी हुई जानकारी बिल्कुल भी शेयर न करें।

sharukh khan

मेरा नाम शाहरुख खान हैं। में पेशे से ब्लॉगर , कंटेन्ट राइटर और डिजिटल मार्केटर हूँ। मुझे टेक्नोलॉजी क्षेत्र के बारें में अच्छी समझ हैं इसलिए में tech be smart प्लेटफ़ॉर्म के जरिए आसान से आसान भाषा में दूसरे यूजर की समझने की कोशिश करता हूँ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button