Tech Tips & Tricks

AC Features Tips Hindi | AC खरीदते समय किन किन बातों का ध्यान रखें।

AC Features Tips Hindi : दुनिया में कोरोना महामारी का प्रकोप लगातार बढ़ाता जा रहा है लेकिन दूसरी और गर्मी भी तेजी से बढ़ रही है देश के कुछ हिस्सों में तापमान से 40 डिग्री सेल्सियस से भी ऊपर पहुच रहा है.

जिसके कारण लोग गर्मी से बचने के लिए कूलर यार एयर कंडीशनर यानि कि AC का इस्तेमाल करते है ऐसे में अगर आप AC खरीदने के बारे में सोच रहे है तो आपको AC खरीदने से पहले कुछ जरूरी बातों के बारे में पता होना जरूरी है

ताकि अपने अपने रुपये खराब न कर सके। इस लेख में हम आपको AC से जुड़ी ऐसे ही कुछ ऐसी ही जरूरी बातों के बारे में बताने वाले है अगर आप भी इन बातों के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो लेख को अंत तक पढे।

अधूरी जानकारी हमेशा नुकसानदायक होती है। इसलिए अधूरी जानकारी के AC खरीदना भी आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है।

जैसे कि जानकारी न होने के कारण कई बार ग्राहक ऐसा AC खरीद लेते है जिसके कारण उनमें कुछ समस्याए आ सकती है। जैसे कि AC का ठंडा न होना। AC ज्यादा तेज गति से चलना जिसके कारण ज्यादा बिल आना। या फिर जल्दी जल्दी खराब होना इत्यादि समस्याएं हो सकती है।

बजट तय करें

अगर आप AC खरीदना चाहते है तो आपको सबसे पहले अपने बजट के बारे में जरूर पता होना चाहिए कि आपका बजट किस रेंज की AC खरीदना है।

अगर AC के दामों की बात की जाए तो मार्केट में बीस हजार से लेकर लाखों रुपये तक की रेज के AC मिलते है।

इन AC की कीमत फीचर्स और रेटिंग पर निर्भर करती है कुल मिलाकर अगर देखा जाए तो आपको एक अच्छा AC खरीदने के लिए 25 से 30 हजार रुपये का बजट बनाना होगा

साइज का सिलेक्शन

अगर आप AC खरीदने जा रहे है तो सबसे पहले आपको ये पता होना चाहिए कि आपको AC किस एरिया के लिए चाहिए ताकि फिर आप उसके अनुसार AC के साइज का चुनाव कर सके

यहां पर साइज का मतलब AC के साइज से नही है बल्कि आपके एरिया की कैपेसिटी से है।

ऐसे में यदि अपने जानकारी ने होने के कारण बड़े हाल के अंदर कम कैपेसिटी वाला AC लगा दिया, तो घंटों चलने के बाद भी उस जगह को सही तरीके से ठंडी नहीं कर पाएगा।लेकिन इसका असर आपके AC लाइफ और बिजली के बिल पर जरूर पड़ेगा।

उदाहरण के तौर पर अगर आपका कमरा 90 स्क्वायर फुट से छोटा है तो आपके लिए 0.8 टन का AC भी काफी रहेगा।
लेकिन यदि आपका एरिया 90-120 स्क्वायर फुट के करीब है तो आपके लिए 1.0 टन का AC पर्याप्त रहेगा।

इसी प्रकार से 120-180 स्क्वायर फुट की जगह के लिए 1.5 टन का AC और 180 स्क्वायर फुट से बड़ी जगह के लिए लगभग 2.0 टन का AC होना चाहिए

AC बनाने वाली कंपनियां AC को एरिया के हिसाब से बनती है ताकि वो जगह के अनुसार कम से कम बिजली खपत में कमरे को ठंडा रखने मेंं कामयाब रहे।

लोकेशन :

AC लगाने के लिए लोकेशन का भी अहम रोल होता है गलत लोकेशन के चुनाव से AC की क्षमता कम होती है यदि 90 स्क्वायर फुट के कमरे के ऊपर पूरे दिन धूप रहती है तो फिर उसे 0.8 टन का AC दिनभर भी ठंडा नहीं कर

सकता है ऐसे में आपको AC का साइज बढ़ाना होगा या फिर AC टेकनीशियन की सहायता से लोकेशन का सही चुनाव करना होगा।

AC कितने प्रकार के होते है?

विंडो AC

समय के अनुसार चीजें बदलती रहती है कुछ समय पहले सिर्फ एक या दो प्रकार के ही AC मार्केट में मिलते थे लेकिन आजकल आपको अलग अलग प्रकार के अनुसार AC नजर आयेंगे

अलग अलग प्रकार के AC के अपनी खूबी है ये AC दूसरे AC की तुलना में कम कीमत वाले होते है इसका कारण है कि ये आवाज करते है। विंडो AC सिंगल कमरे या फिर छोटे कमरे के लिए सही विकल्प हो सकता है।

स्प्लिट AC

इस AC की सबसे खास बात यह है कि इस AC के गैस वाले हिस्से को अपनी सुविधा के अनुसार कहीं पर भी फिट किया जा सकता है बड़े हाल्स में एयर फ़्लो ज्यादा होने के कारण

ये बेहतर काम करते है दीवार के सेट होने के बाद के अच्छे नज़र आते है लेकिन इनकी कीमत विंडो AC की तुलना में ज्यादा होती है।

पोर्टेबल AC

समय के अनुसार प्रोडक्ट में बदलाव होता रहता है जिसमें वर्तमान समय में अनुसार कुछ नए फीचर्स जोड़ दिये जाते है यही कारण है कि अब मार्केट में AC के नए रूप पोर्टेबल AC का ट्रेंड तेजी से बढ़ रहा है।

इस AC की सबसे खास बात यह है कि आप इसे अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी जगह फिट कर सकते है और इसे इंस्टाल करने की भी दिक्कत नहीं है।

लेकिन ये कीमत के मामले में विंडो और स्प्लिट दोनों से महंगी होती है।

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

AC के फीचर्स | AC Features Tips Hindi

फिल्टर

फिल्टर AC की जान होती है इसलिए AC मेंं अच्छा अच्छा फ़िल्टर होना चाहिए ताकि लोगों को सांस लेने में किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो।

आप जब भी किसी कमरे या हाल्स में AC लगवाते हो उसके वेंटिलेशन को बंद कर दिया जाता है।

इसलिए सांस लेने के लिए अच्छा फिल्टर होना चाहिए नहीं तो अगर आपको AC में रहने के बावजूद सांस लेने में परेशानी हो रही है तो फिर ऐसी AC का कोई फायदा नहीं है । ऐसे मेंं सांस लेने के लिए अच्छा फिल्टर बहुत जरूरी हो जाता है।

एयर फ्लो

कोई भी कमरा या हॉल कितनी देर में ठंडा हो सकता है इसका अनुमान AC के एयर फ़्लो फीचर्स के द्वारा किया जाता है। इसलिए जब भी आप AC का सेटअप कराए तो इसके बारे में जान ले।

क्योंकि AC में कूलिंग स्पीड को फिक्स करना जरूरी है ताकि आप कमरे को समय से ठंडा कर सके आजकल ज्यादातर कॉम्पनिया अपने AC में इस फीचर्स की सुविधा प्रदान कर रही है

स्विंग

AC में इस फीचर्स का फायदा यह है कि इस फीचर्स की सहायता से AC कमरे के चारों और हवा देता है ताकि कमरा जल्दी ठंडा हो सके।

टाइमर और सेंसर

हमेशा टाइम और सेंसर वाला AC ही खरीदें ताकि आप इस फीचर्स की मदद से AC का ऑन ऑफ टाइम सेट कर सके। जब आप टाइम सेट करते है। सेंसर से आपके कमरे के तापमान की जांच करता है।

अगर कमरा ठंडा चुका होता है तो आपका AC खुद ही ऑफ जाएगा और जब आपका कमरा नॉर्मल हो जाएगा तो आपका AC फिर से ऑन हो जाएगा असल में इस फीचर्स का मकसद आपकी बिजली खपत को कम करना है।

वोल्टेज स्टेबलाइजर

जब आप AC खरीदते है तो आपको इसके साथ वोल्टेज स्टेबलाइजर भी मिलता है। आपके AC की पावर कितनी होगी ये आपके AC पर निर्भर रहता है कि आपका AC कितने टन का है।

उदाहरण के तौर पर अगर आपका AC 0.5-0.8 टन का है तो उसके लिए 2KVA का स्टेबलाइजर सही रहेगा। इसे प्रकार 1.0 टन से 1.2 टन के AC के लिए 3KVA, 1.2-1.6 टन के AC के लिए 4KVA , 2.0-2.5 टन AC के लिए 5KVA , 3 टन वाले AC के लिए 6KVA क्षमता स्टेबलाइजर होना चाहिए।

स्टार रेटिंग

आज की दुनिया में अगर आप कोई भी सामान खरीदना चाहते है तो आप इन प्रोडक्ट के बारे में इंटरनेट के माध्यम से जानकारी प्राप्त कर सकते है और लोगों की राय भी जान सकते है जिन्होंने आप से पहले उस प्रोडक्ट का इस्तेमाल किया है जिसे वे रेटिंग के माध्यम से बया करते है जिस प्रोडक्ट की रेटिंग जितनी ज्यादा होती है वो प्रोडक्ट उतने ही अच्छे माने जाते है

ब्रांड और कलर्स

किसी भी प्रोडक्ट की ब्रांड भी काफी मायने रखती है आप ब्रांड नेम से ही पता लगा सकते है उस ब्रांड का प्रोडक्ट कैसा होगा।

मार्केट में समय समय पर नए नए ब्रांड के प्रोडक्ट आते रहते है जो लोगों को आकर्षित करने के लिए अच्छे ऑफर देते है लेकिन उनके प्रोडक्ट दमदार नहीं होते है ऐसे में आप पैसों को बचाने के चक्कर में अपना पैसा बर्बाद कर सकते है।

इसलिए अगर आपका बजट अच्छा है तो उन ब्रांड को ही अहमियत दे जिनका मार्केट में पहले से ही अच्छा नाम है। ये प्रोडक्ट काफी महंगे होते है और इनके खराब होने पर इनके सही करने के लिए टेक्नीशियन के चार्जेस भी ज्यादा होते है ऐसे में आप प्रोडक्ट की वारंटी पर भी जरूर ध्यान दे।

कोई प्रोडक्ट आपको तभी अच्छा लगेगा जब उसका कलर खूबसूरत होगा इसलिए खरीदते समय हमेंशा कलर का भी ध्यान रखें। । विंडो AC मेंं आपको कलर ऑप्शन कम मिलते हैं। पोर्टेबल AC में भी कलर सीमित ही होते है, लेकिन स्प्लिट AC कई कलर मेंं आते हैं।

इस बात भी जरूर ध्यान रखें कि स्प्लिट AC को ऊंचाई पर फिट किया जाता है, जहां से AC को एक बार फिट करने के बाद उसकी सफाई करना मुश्किल होता है। इसलिए स्प्लिट AC को डार्क कलर मेंं ही खरीदना चाहिए। ताकि जल्दी जल्दी गंधा न दिखाई दे।

मेंंटेनेंस और खर्च

आप जिस भी कंपनी के AC को खरीदने का प्लान बना रहे है तो पहले उस कंपनी की मेंटेनेंस सर्विस के बारे में भी सही तरीके से जान ले कि कौन सी कंपनी बेहतर सर्विस प्रोवाइड कराती है और कितना रुपये तक चार्ज करती है।

और कौन सी कंपनी नई AC खरीदने के बाद बाद कितने साल तक फ्री सर्विस देती है यानि कि 2 ये 3 साल तक अगर AC में कोई खराबी आती है तो क्या आपको उसका चार्जेस देना होगा या नहीं

अगर आप ग्रामीण क्षेत्र में रहते है तो क्या कंपनी आपकी शिकायत पर उसके लिए टेक्नीशियन भेजेगी या नहीं

इन्हे भी जरूर पढ़ें।

निष्कर्ष- AC Kaise kharide

इस लेख में हमने आपको AC खरीदने के बारे में सम्पूर्ण तरीके से जानकारी दी है इसलिए अगर आप AC खरीदना चाहते है तो यह लेख आपके लिए महत्वपूर्ण है इसे आप एक बाद जरूर पढे। इस लेख में हमेंं आपको बताया है कि AC कैसे खरीदें AC Kaise kharide, AC Features Tips Hindi इत्यादि

अगर आपको हमारी ये जानकारी अच्छी लगी है तो आप अपनी राय हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और इस जानकारी को दूसरे लोगों के साथ जरूर शेयर करे ताकि उन्हे भी AC के बारे में सही जानकारी मिल सके धन्यवाद

Techbesmart

अगर आप Tech News , Internet Tips, Mobile Tips, Social Meda Tips, Online Scam Tips, इत्यादि से जुड़ी हुई जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमारी वेबसाइट www.techbesmart.com पर विजिट करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button